गिर सकती है खट्टर सरकार, कांग्रेस का दावा, संपर्क में हैं BJP-JJP के कई विधायक

82

नई दिल्ली। कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे किसान आंदोलन की वजह से इस समय सबसे ज्यादा दबाव में हरियाणा में बीजेपी और जेजेपी की गठबंधन सरकार है। कांग्रेस राज्य में वापसी की कोई कसर नहीं छोड़ रही है। इस बीच हरियाणा कांग्रेस की अध्यक्ष कुमारी शैलजा बड़ा दावा कर दिया है। उनका कहना है कि, भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) समेत कई निर्दलीय विधायक हमारे संपर्क में हैं। खट्टर सरकार पर निशाना सधते हुए शैलजा ने कहा कि, राज्य सरकार भरोसा खो चुकी है और राज्य में पॉलिटिकल वैक्यूम कांग्रेस नहीं छोड़ेगी।

इसे भी पढ़ें: ममता सरकार के मंत्री ने नेशनल हाईवे को किया बंद, वैक्सीन ले जा रहे वाहन को किया गया डायवर्ट

कुमारी शैलजा का कहना है कि, अब ऐसा वक़्त आ गया है कि, जनता का विश्वास हरियाणा सरकार खो चुकी है। कुछ दिन पहले ही मुख्यमंत्री के गृह जिले में ही उनके खिलाफ विरोध हुआ है, यह समय को नहीं पहचान रहे हैं। जो भी हो रहा है, उस वास्तविक्ता ये अभी काफी दूर हैं। बीजेपी से कृषि प्रधान राज्य की जनता अब दूर हो चुकी है। सत्ता पक्ष या फिर उनकी सहयोगी पार्टी के विधायक सभी लोग अब इस बात को जानते हैं।

इस दौरान उन्होंने कहा कि, इन लोगों से हमारा संपर्क है और आज बीजेपी की नीतियों और कार्यशैली से पूरा प्रदेश नाराज है। कुमारी शैलजा ट्वीट कर बीजेपी और जेजेपी पर निशाना साधते हुए लिखा है कि, ”नए रोजगार सृजन में फेल हो चुकी भाजपा-जजपा सरकार के पास न कोई नीति है न नीयत. 34 हजार शिक्षकों की कमी के बावजूद कोई भर्ती नहीं. क्या बिना शिक्षकों के प्रदेश के छात्रों का भविष्य संवारेगी सरकार?”

हरियाणा विधानसभा में कुल 90 सीटें हैं, जिसमे से बहुत के लिए 46 सीटें चाहिए। बीजेपी के पास जहां 40 सीटें हैं, वहीं कांग्रेस के पास 31 सीटें हैं। ष्यंत चौटाला की जननायक जनता पार्टी के पास 10 सीटें हैं, जो बीजेपी के साथ राज्य में गठबंधन की सरकार चला रहे हैं। वहीं 7 सीटों पर निर्दलीय विधायक बने हैं। जबकि दो सीटें अन्य ने जीती हैं।

इसे भी पढ़ें: आतंकियों को पालने वाले पाकिस्तान ने UNSC में RSS और हिंदुत्व को बताया खतरा