spot_img
Wednesday, September 22, 2021

महिला की एक भूल ने ली 2 साल की बच्ची की जान, काल बने वो 7 घंटे, जानें मामला

- Advertisement -
- Advertisement -

आपने अक्सर लोगों को ये कहते सुना होगा कि कार में सामान लॉक हो गया। कुछ भूल गए, लेकिन आज हम आपको एक ऐसे मामले के बारे में बताएंगे जिसको जान आप हैरान हो जाएंगे। दरअसल यह मामला अमेरिका के फ्लोरिडा का है जहां एक महिला दो साल की मासूम बच्ची को कार में भूल गई। वह बच्ची का बड़ी सुरक्षित सीट बेल्ट लगाकर ले गई थी। घर पहुंचने पर वह सड़कर पर कार पार्क करने के बाद बंद करके चली गई और लड़की को ले जाना भूल गई। सात घंटे बाद जब से बेटी का ख्याल आया और वह लौटकर उनसे जो देखा उसे देख आपके भी होश उड़ जाएंगे। उन सात घंटे में बच्ची अपना दम तोड़ चुकी थी। पुलिस ने आरोपी महिला को गिरफ्तार कर लिया है।

कार में लॉक हुई बच्ची

फ्लोरिडा की 43 वर्षीय जुआना पेरेज़-डोमिंगो को पुलिस ने शनिवार को इस आरोप में अरेस्ट किया क्योंकि उसने दो साल की मासूम बच्ची को सात घंटे तक सीट बेल्ट लगाकर कार लॉक करके छोड़ कर चली गई थी। जिस वजह से बच्ची ने अपना दम तोड़ दिया।

मिली जानकारी के अनुसार दो साल की बच्ची का नाम जोसलीन मारित्जा मेन्डेज़ है. पुलिस ने बताया कि आरोपी महिला पर बच्चों को डेकेयर में ले जाने की जिम्मेदारी थी।

शुक्रवार को आरोपी महिला दो साल की बच्ची जोसलीन को घर से डेकेयर ले जाने के लिए वैन से लेकर निकली थी, लेकिन 6.30 बजे तक डेकेयर सेंटर खुला ना होने की वजह से वह बच्ची को घर ले गई।

सुबह 8 बजे आरोपी महिला पेरेज़-डोमिंगो ने छोटी बच्ची को अपनी टोयोटा सिएना मिनी वैन की तीसरी पंक्ति में छोड़ दिया। कार को लॉक करने कर वह घर के अंदर चली गई लेकिन बच्ची को ले जाना भूल गई।

30 डिग्री सेल्सियस से अधिक के तापमान में कार के अंदर बैठी बच्ची की हालत खराब हो गई। शायद ही आप इस बात का अंदाजा लगा सकते होगें की बच्ची का क्या हाल हुआ होगा। पूरे सात घंटे के बाद जब वह लौटकर आई तो हाल कुछ और ही था। बच्ची की मौत हो चुकी थी। पुलिस के अनुसार, उसने आपातकालीन सेवाओं को फोन करने के बजाय बच्ची की मां को फोन किया और उसके मरने की सूचना दी।

इसे भी पढ़ें-पूल किनारे Sun Bath करते हुए नजर आई प्रियंका चोपड़ा, फ्लांट किया निराला टैटू

- Advertisement -
spot_img
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -