तलाक तक पहुंच गये थे वाजिद खान और कमलरुख के जिन्दगी के रिश्ते

38
sajid kamalrukh

मुम्बई। बॉलीवुड के जाने-माने सिंगर वाजिद खान को गुजरे छह महीने हो चुके हैं लेकिन उनसे जुड़े मामले आते जा रहे हैं। उनकी मौत के बाद वाजिद की पत्नी कमलरुख ने पिछले दिनों अपने ससुरालवालों के बारे में बड़ा खुलासा किया था। परिवार वाले प्रताड़ित करते हैं। अब एक बार फिर कमलरुख ने इसपर अपने परिवार के रिश्तों के बारे में बात की है। कमलरुख ने एक साक्षात्कार में पति वाजिद संग अपने सम्बन्धों के बारे में खुलासा किया है। उन्होंने कहा कि वाजिद और वो 10 साल के लंबे रिलेशनशपि में थे। इसके बाद उन्होंने शादी के बारे में निर्णय किये। पहले वाजिद का परविार धर्म परविर्तन को लेकर उन्हें दबाव बनाने लगा। उसके बाद खुद वाजिद उन्हें तलाक की धमकी देने लगे थे। तलाक और दबाव की बातें 2014 की है। पारिवारिक तनाव और पति के साथ रिष्ते की वजह से कमलरुख और वाजिद पिछले 6 साल से अलग रह रहे थे। कमलरुख ने आगे बताया- 2014 में वाजिद ने तलाक के लिए अर्जी दायर की थी जो कि हुआ नहीं। मैं अभी भी डिवोस्र्ड नहीं हूं। बाद में वाजिद ने अपने किए पर माफी मांगी थी और उसे अपने किए पर पछतावा था। कमलरुख ने अपने पोस्ट में लिखा था कि इस्लाम में परविर्तन होने के लिए दिए जाने वाले दबाव के कारण मेरे और वाजिद के बीच दूरियां बढ़ने लगी थी।

यह भी पढ़ेंः-ऐश्वर्या की इस आदत से नफरत करते हैं अभिषेक बच्चन, जानें श्वेता बच्चन की राय

हम दोनों एक दूसरे से दूर होते जा रहे थे। यह मेरे और मेरे पति के रिलेशनशपि को तोड़ने के लिए टॉक्सकि का काम कर रहा था। मेरी डिग्नटिी और आत्म-सम्मान मुझे उसके या उसके परविार के लिए धर्म परविर्तन कर झुकने की इजाजत नहीं दे रहा था। कमलरुख ने सोशल मीडयिा पर एक पोस्ट के जरएि अपने ससुरालवालों द्वारा दिए जाने वाले धर्म परविर्तन के दबाव का खुलासा किया था। उन्होंने लंबी चैड़ी पोस्ट लिखकर अपना दर्द दुनिया के सामने पेश किया था। कमलरूख के इस खुलासे पर खूब चर्चा हुई। कमलरूख ने लिखा था कि मैं पारसी थी और वे मुस्लिम थे।

यूं समझ लीजिए कि हम कॉलेज स्वीटहाट्र्स थे। यहां तक कि जब हमने शादी की तो स्पेशल मैरिज एक्ट के अंतर्गत की। मैं इस पर अपना अनुभव बताना चाहती हूं कि किस तरह से मुझे इंटरकास्ट मैरिज करने के बाद धर्म के आधार पर भेदभाव का सामना करना पड़ रहा है। ये बेहद शर्मनाक है और सबकी आंखे खोल देने वाला है। अब देखने वाली बात होगी की वाजिद के परिवार की तरफ से इसपर क्या प्रतिक्रिया मिलती है। वाजिद खान की बात करें तो स्वास्थ्य खराब होने के बाद वाजिद खान को 31 मई 2020 को अस्पताल में एडमिट कराया गया और अगले ही दिन यानी 1 जून, 2020 को वाजिद खान का इंतकाल हो गया। कमलरूख परिवार से अलग रहती हैं।

यह भी पढ़ेंःजल्द शादी करने जा रही हैं एकता कपूर! इस मिस्ट्री मैन संग लेंगी सात