नेपोटिज्म पर बहस में कूदी यह बड़ी अभिनेत्री, बोली-मुझे भी किया गया था सुसाइड के लिए मजबूर

523
Akshara-Singh

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत का बाद बॉलीवुड में नेपोटिज्म पर जोरदार बहस शुरू हो चुकी है। हालंकि इस मुद्दे पर कई बार पहले भी बहस होती रही है लेकिन शायद इतनी गरमाहट कभी नहीं आई। अब इस बहस में कई बड़े कलाकार भी कूद पड़े हैं। और खुलकर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। भोजपुरी अभिनेत्री अक्षरा सिंह भी इस बहस में कूद पड़ी हैं और उन्होंने फिल्म इंडस्ट्री को लेकर कई बड़े खुलासे किए।

अक्षरा सिंह ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो साझा कर कहा की किस तरह से स्टार किड्स को फिल्म इंडस्ट्री में आने का मौका आसानी से मिल जाता है। जो कलाकार बनना चाहते हैं। प्रतिभाशाली हैं। ऐसे सभी लोगों को मौका मिलना चाहिए। स्टार किड्स को भी संघर्ष से गुजरना चाहिए। उन्हें भी ऑडिशन देने चाहिए, लेकिन उन्हें बिना किसी संघर्ष के बॉलीवुड में काम मिल जाता है। अक्षरा ने आगे कहा कि भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री में भी गुटबाजी चरम पर है। उन्होंने बताया कि- “जब मैं यहां नई नई आई थी तो अगर मैं किसी और हीरो के साथ काम करती थी तो दूसरा हीरो मेरा साथ काम करने से मना कर देता था। तब कहा जाता था कि ये उस गुट की हीरोइन है। मुझे बहुत सारी फिल्मों से निकाला गया। सारी फिल्म इंडस्ट्री एक तरफ हो गई थी।”

आज भी लड़ रही हूं

अभिनेत्री ने कहा-“इंडस्ट्री में मेरे सामने ऐसे हालात बना दिए गए कि मैं सुसाइड करने की स्थिति में आ गई थी T। उस वक्त मेरा किसी ने भी साथ नहीं दिया। मैं बहुत मुश्किलों से गुजर रही थी। जब आप जिंदा होते हैं तो आपके पास कोई नहीं आता। लेकिन मरने पर लोग मोमबत्ती लेकर निकल पड़ते हैं। मैं आज भी लड़ रही हूं।” मालूम हो कि भोजपुरी एक्ट्रेस अक्षरा सिंह ने सुशांत के घर पहुंचकर उन्हें श्रद्धांजलि दी थी। इस दौरान उन्होंने सुशांत के पिता केके सिंह से मुलाकात की थी।

इसे भी पढ़ें:-इस दिन रिलीज होगी सुशांत सिंह की आखिरी फिल्म, जानिए मेकर ने फैंस को क्या दिया सरप्राइज