सुशांत सिंह राजपूत के दोस्त ऋषिकेश पवार को एनसीबी ने लिया हिरासत में, जब्त की 15 लाख की ‘मेफेड्रोन’

107
Sushant Singh Rajput Case

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) एक्टर सुशांत सिंह राजपूत केस में ड्रग का एंगल आने के बाद से लगातार और तेजी से कार्रवाई कर रही है। अब एनसीबी ने इस मामले में पूछताछ के लिए सुशांत सिंह राजपूत के दोस्त और सहायक निर्देशक ऋषिकेश पवार को हिरासत में लिया है। जिसमें उनसे ड्रग्स के बारे में कुछ सवाल किये जाएंगे। आपको बता दें कि ऋषिकेश पवार की तलाश पुलिस बीते महीने से ही कर रही थी। फिलहाल अभी इस मामले में अधिक जानकारी नहीं मिली है।

इसे भी पढ़ें:- Aamir Khan ने किया एक अनोखा ऐलान, फिल्म की रिलीज तक इस चीज को नहीं लगाएंगे हाथ

एनसीबी ऋषिकेश पवार से पहले ही ड्रग्स केस में पहले भी पूछताछ कर चुकी है। एक ड्रग्स सप्लायर ने ऋषिकेश पवार का नाम एनसीबी के सामने लिया था। जिसके बाद ऋषिकेश पवार को पूछताछ के लिए बुलाया था। इस केस में गिरफ्तारी न हो जाए जिसके कारण पवार ने अग्रिम जमानत की अपील भी की थी, मगर अदालत से राहत नहीं मिली थी। यह दावा किया जा रहा है कि ऋषिकेश उन लोगों में शामिल थे जो सुशांत सिंह राजपूत तक ड्रग्स पहुंचाते थे।

एनसीबी ने मुंबई से बैन ड्रग ‘मेफेड्रोन’ अधिहृत की है, जोकि लगभग 15 लाख रुपये अनुमानित कीमत की है। अब तक इस केस में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के एक अधिकारी ने बताया कि सूत्रों से मिली जानकारी के आधार पर एजेंसी ने सोमवार देर रात माहिम इलाके में एक फ्लैट पर छापा मारा था।

अधिकारी ने आगे बताया कि जब्त ‘मेफेड्रोन’ की अनुमानित कीमत 15 लाख रुपये है। एनसीबी ने इस केस में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है और उनसे पूछताछ की जा रही है। बता दें नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने पिछले महीने दक्षिण मुंबई के डोंगरी इलाके में छापेमारी के दौरान एक बड़े मादक पदार्थ गिरोह का खुलासा किया था। इसी छापेमारी के दौरान दाऊद इब्राहिम के गुर्गे परवेज खान उर्फ चिंकू पठान को भी मादक पदार्थ जब्ती के सिलसिले में गिरफ्तार किया था। अधिकारी ने आगे बताया कि डोंगरी इलाके में नशीले पदार्थ की इकाई स्थापित करने वाले आरिफ भुजवाला को भी गिरफ्तार किया जा चुका है।

इसे भी पढ़ें:- नहीं पहुंची एंबुलेंस तो आर्मी जिप्सी में हुआ नन्हीं परी का जन्म, खुशी से भर आईं पिता की आंखें