कपिल शर्मा को क्राइम ब्रांच ने जारी किया समन, इस केस में दर्ज होगा बयान

42

मुंबई। कॉमेडियन कपिल शर्मा को मुंबई क्राइम ब्रांच ने समन जारी किया है। मशहूर डिजाइनर दिलीप छाबड़िया के खिलाफ कपिल ने धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया है। इस मामले को लेकर ही क्राइम ब्रांच की जांच टीम ने बयान दर्ज कराने के लिए बुलाया है। कपिल की शिकायत के बाद 28 दिसंबर 2020 को मुंबई पुलिस ने दिलीप छाबड़िया को गिरफ्तार भी किया था। पुलिस ने कार रजिस्ट्रेशन रैकेट के मामले में कार मॉडिफिकेशन स्टूडियो डीसी डिजाइन के फाउंडर छाबड़िया को गिरफ्तार किया था। कपिल ने दिलीप के खिलाफ धोखाधड़ी, आपराधिक साजिश के तहत IPC की धारा 420 के तहत केस दर्ज कराया है।

इसे भी पढ़ें: मान्यता की फोटो पर त्रिशाला ने किया यह कमेंट, कभी अच्छे नहीं थे दोनों के रिश्ते

शिकायत के बाद मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम ने जब दिलीप छाबड़िया की फैक्ट्री में छापा मारा तो उन्हें 14 कारें, 40 इंजन बरामद हुई। इस फैक्ट्री में पुलिस को 19 लग्जरी कारें और कई बाइक्स भी मिली थीं। पुलिस का कहना है कि, छाबड़िया से मिली जानकारी के अनुसार कई नॉन-बैंकिंग फाइनेंस कंपनियों से छाबड़िया की कंपनी खुद को कस्टमर बताते हुए डीसी स्पोर्ट्स कारों खरीदने के लिए कर्ज लिए हुए थे।

दिलीप छाबड़िया डिजाइंस प्राइवेट लिमिटेड की तरफ से हर एक कार के लिए 42 लाख रुपए का लोन लिया गया है। भारत में कंपनी की कुल 120 कारें बिकी है, जिसमे से 90 कारों पर लोन लिया गया था। कई कारों पर लोन लेने के बाद उसे कंपनी बेच भी दिया था। ये फर्जीवाड़ा पिछले काफी समय से चल रहा था।

इसका खुलासा तब हुआ जब क्राइम इंटेलिजेंस यूनिट के असिस्टेंट पुलिस इन्सपेक्टर सचिन वजे को अपने सूत्रों से से जानकारी मिली कि, साउथ मुंबई में एक टू-सीटर स्पोर्ट्स कार फर्जी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट के साथ सड़क पर देखी गई है। पुलिस ने जब इस कार को रोका को जांच शुरू की तो सामने चौका देने वाले जानकारी आई।

कार का इंजन और चेचिस नंबर हरियाणा की एक कार में भी रजिस्टर्ड है। इसके बाद ही पुलिस एक्शन में आई और 28 दिसंबर को दिलीप छाबड़िया को अरेस्ट कर लिया गया।

इसे भी पढ़ें: आज भी लोगों के जहन में जिन्दा हैं अभिनेता ओमपुरी, इस हालात में मिली थी लाश