जब राज कुमार पर हावी हो गए थे फिरोज खान, एक्टर ने दिया था ऐसा जवाब, दंग रह गए थे लोग

21
feroz raj kumar

बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता फिरोज खान (Feroz Khan) का आज 81वां जन्मदिन हैं। हालांकि, फिरोज खान अब इस दुनिया में नहीं है कि वे अपना जन्मदिन मना पाए। फिरोज खान बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता रह चुके हैं। फिल्म इंडस्ट्री में फिरोज खान का कोई गॉडफादर नहीं थे, लेकिन फिरोज खान ने कभी हार नहीं मानी। बॉलीवुड में उन्हें अकड़ू स्टार कहा जाता था, और ये अकड़ स्टारडम मिलने के बाद नहीं बल्कि पैदाइशी थी। इसका सबसे बड़ा उदाहरण उनकी पहली फिल्म के दौरान हुआ एक इंसीडेंट था।

यह भी पढ़े- वकील विकास सिंह का दावा: सुशांत को इस तरीके से उतारा गया मौत के घाट, एम्स के डॉक्टरों पर भी उठाई उंगली

अकड़ू थे फिरोज खान
फिरोज खान का असली नाम जुल्फिकार अली शाह खान था जो फिल्मों में अपना करियर बनाने के लिए मुंबई आए और बी ग्रेड फिल्में की। हालांकि, उनकी किस्मत तब चमकी जब उन्हें 1965 में ऊंचे लोग फिल्म मिली। इस फिल्म से फिरोज ने डेब्यू किया था। feroz khan इस फिल्म में उन्हें उस वक्त के सुपरस्टार राज कुमार और अशोक कुमार के साथ काम करने का मौका मिला। एक तरफ जहां लोग राज कुमार के साथ फिल्म करने के लिए तरसते थे, वहीं फिरोज खान ने उस वक्त राज कुमार से सबसे सामने बद्तमीजी कर दी थी।

राज कुमार से की थी बद्तमीजी
दरअसल, फिल्म की शूटिंग का पहला दिन था और फिरोज खान सेट पर पहुंचे थे। राज कुमार सीनियर एक्टर थे और  वह नहीं चाहते थे कि कोई भी गड़बड़ हो। वह फिरोज के पास आए और उन्हें समझाने लगे। राज ने फिरोज से कहा, ये एक बड़ी फिल्म है। तुम्हें अपना रोल ध्यान से करना होगा। feroz raj kumar मैं तुम्हें बताता हूं और वह फिल्म समझाने लगे। इतने में फिरोज खान को गुस्सा आ गया और उन्होंने राज कुमार से कह दिया, आप अपना काम अपने तरीके से कीजिए। मैं अपने तरीके से करूंगा।

राज कुमार ने दिखाया था बड़प्पन
फिरोज के इतना कहते ही सेट पर मौजूद सभी लोग हैरान रह गए। अब भला कोई जूनियर एक्टर की क्या मजाल कि वह अपने से बड़े एक्टर के साथ बदतमीजी करे। सभी को लग रहा था कि अब तो फिरोज गए, लोगों को लग रहा था राज कुमार फिरोज की शिकायत प्रोड्यूसर से लगाएंगे लेकिन उन्होंने बड़प्पन दिखाया। raj kumar यही नहीं, राज कुमार ने फिरोज से यहां तक कह दिया था कि मुझे तुम्हारी अकड़ अच्छी लगी। मैं भी ऐसा ही हूं। किसी की नहीं सुनता। यह अकड़ हमेशा बनाए रखना।

तारीफ से भी खुश नहीं थे फिरोज
हालांकि, कई इंटरव्यू में राज कुमार मानते हैं कि फिरोज ने उस वक्त बचपने में आकर कहा लेकिन उन्हें अपने से सीनियर से ऐसी बात नहीं करनी चाहिए थी। वहीं, इस फिल्म में फिरोज खान को काफी तारीफें मिली और बॉलीवुड की बड़ी फिल्मों के लिए उनके दरवाजे खुल गए। feroz khan फिरोज को धड़ल्ले से फिल्में मिलने लगी लेकिन फिरोज इससे खुश नहीं थे। उनको लग रहा था कि बॉलीवुड में कोई उन्हें उनके मन पसंद का रोल नहीं दे रहा है। इसलिए उन्होंने खुद ही फिल्में करनी शुरू की और खुद को दिए रोल से वह काफी संतुष्ट और खुश नजर आते थे। फिरोज खान ने बतौर डायरेक्टर पहली ही फिल्म ‘अपराध’ को निर्देशित किया था जिसका सेट बेहद लाजवाब था। इसके अलावा फिरोज खान ने फिल्म धर्मात्मा और कुर्बानी डायरेक्ट की जिसे काफी लोकप्रियता हासिल हुई।

वूमनाइजर थे फिरोज खान
वहीं, अगर निजी जिंदगी की बात करें तो फिरोज खान अपने समय में वूमनाइडर कैटगरी में आते थे। शादीशुदा होने के बाद भी उनके कईयों के साथ अफेयर रहा। फिरोज की शादी सुंदरी से हुई थी और उनसे तीन बच्चे लैला, फरदीन और सोनिया हैं। हालांकि, शादी के बाद भी फिरोज का अफेयर एक एयर होस्टस ज्योतिका से था जिसके चलते उन्होंने पत्नी सुंदरी तक को छोड़ दिया था। feroz khan affair यहां तक कि फिरोज उस एयर होस्टस के साथ लिव इन रिलेशनशिप में भी रहने लगे थे लेकिन ये रिश्ता ज्यादा नहीं चला। वहीं दूसरी ओर सुंदरी ने फिरोज को तलाक दे दिया था। फिरोज का निधन 2009 में कैंसर की वजह से हो गया था।

यह भी पढ़े- मेंहदी से संगीत तक, ऐश्वर्या का लहंगा है इतना खास, हर दुल्हन चाहेगी पहनना