Thursday, January 20, 2022

Digital Bank बना हकीकत, देश में पहली बार ATM से कैश निकासी से ज्यादा हुई मोबाइल पेमेंट : PM मोदी

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली। देश में मोबाइल फ़ोन से की जाने वाली ऑनलाइन पेमेंट एटीएम से की जाने वाले नकद निकासी को पार कर चुकी है। इस बारे में जानकारी शुक्रवार पीएम नरेंद्र मोदी ने फिनटेक से सम्बंधित कार्यक्रम InFinity Forum में दी। कार्यक्रम में पीएम मोदी ने कहा कि पहली बार ऐसा हो रहा है कि देश में पिछले साल मोबाइल पेमेंट, एटीएम नकद निकासी के आंकड़े का पार कर गया। प्रधानमंत्री ने कहा कि, बगैर किसी बैंक शाखा के डिजिटल बैंक देश में अब हकीकत का रुप ले चुका है। आगामी दस सालों में ये एक सामान्य बात बनकर रह जाएगा।

इसे भी पढ़ें : Omicron की दहशत के बीच दक्षिण अफ्रीकी देशों से लौटे 10 विदेशी लापता

पीएम मोदी ने कहा कि, दुनिया को भारत ने बता दिया है कि किसी भी टेक्नोलॉजी को अपनाने या फिर उसके इर्द गर्द इंनोवेशन में उसका कोई सानी नहीं है। गवर्नेंस में डिजिटल इंडिया की वजह से Innovative Fintech Solutions के लिये नए दरवाजे खुले हैं। फिनटेक से जुडी पहला को अब फिनटेक क्रांति के रुप में परिवर्तित करने का वक़्त आ गया है।

पीएम ने कहा कि फाइनेंस और टेक्नोलॉजी यानी फिनटेक चार स्तंभों – आय, बीमा, निवेश और संस्थागत ऋण पर टिकी हुई है। जब आय बढ़ती है, तो निवेश संभव हो जाता है। ज्यादा जोखिम लेने की क्षमता और निवेश को बीमा कवरेज बढ़ाता है और संस्थागत ऋण विस्तार का मौका देता है। हमने इन सभी स्तभों पर काम किया है।

7 सालों में खुले 43 करोड़ जनधन खाता
पीएम ने कार्यक्रम में बताया कि, 50 प्रतिशत से भी कम लोगों के पास बैंक में 2014 से पहले खाता था। वहीं बीते 7 सालों में 43 करोड़ से ज्यादा जनधन खाते खोलकर लोगों को बैंक से जोड़ा गया। 69 करोड़ RuPay Cards अब तक जारी किए जा चुके हैं। इन पर बीते साल 1.3 अरब ट्रांजैक्शन हुये थे। वहीं 4.2 अरब ट्रांजैक्शन पिछले महीने UPI के माध्यम से हुए।

इसे भी पढ़ें : देश के इस शहर में मिला सोने का बड़ा भंडार, संसद में खनन मंत्री ने दी जानकारी

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -