शनि की बदलने वाली है चाल, जानें किन राशियों के जातकों का बदलेगा भाग्य

245

न्याय का ग्रह शनि की आगामी 29 सितंबर से सीधी चल चलेंगे, सुबह 10:45 मिनट पर शनि ग्रह वक्री से मार्गी हो रहे हैं। इसके बाद जिस राशि में शनि प्रभावी थे वो प्रभाव अब काफी कम हो जायेगा। शनि ग्रह 11 मई 2020 में ही वर्की हुए थे, जिसके बाद अब 142 दिन बाद वो मार्गी हो रहे हैं। इससे पहले 24 जनवरी को धनु से मकर राशि में शनि ने गोचर किया था। आपको जानकारी के बता दें कि शनि का मार्गी होना एक बड़ी घटना है। कन्या, कर्क, धनु, मिथुन और वृश्चिक राशि वालों को शनि के मार्गी होने से लाभ होगा। ढाई वर्ष में शनि एक राशि से दूसरी राशि में जाते हैं, जिससे शनि की साढ़े साती और ढ़ैया शुरू होती है।

कुंभ राशि वालों पर शनि के इस राशि परिवर्तन के बाद साढ़े साती का पहला चरण शुरू हो गया है। इसके आलावा शनि की साढ़े साती मकर और धनु राशि में पहले से ही प्रभाव है। जो वर्ष 2020 के अंत तक खत्म हो जायेगा। इस दौरान जिन लोगों पर शनि के वक्री होने की वजह से अढ़ैय्या, साढ़ेसाती थी। उन्हें अब तक कई परेशनियों का सामना करना पड़ रहा था वो अब काफी कम हो जाएँगी। इन्हे कब शनि से काफी राहत प्राप्त होगी। वहीं मेष राशि वाले जातकों के अष्टम की ढैय्या थी जो अब खत्म हो रही है जिसके बाद इन्हे भी राहत मिलेगी।

पारिवारिक परेशनियों का सामना मिथुन राशि के जातकों को करना पड़ सकता है। शनि की साढ़े साती का असर अभी धनु राशि वालों पर देखने को मिलेगा। जो वर्ष 2020 के अंत तक धीरे-धीरे काफी कम हो जायेगा। अब कुम्भ और मकर राशि के जातकों पर भी शनि की साढ़े साती प्रभाव शुरू होगा। बाकी शनि ग्रह के प्रभाव के विषय में जातक की कुंडली देखकर ही शुभ-अशुभ बताया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें: गर्भावस्था के दौरान इन उपायों को अपनाकर बच्चे के भविष्य को करें सुरक्षित